CRP test in hindi | CRP test Cost | What is CRP test (हिंदी में)

CRP Test क्या है , कब, क्यूँ , कहाँ और कितने में किया जाता है

1.What is CRP (CRP क्या है )

यह एक प्रोटीन है जो शरीर में सुजन (inflammation) होने पर हमारे लीवर द्वारा बनाया जाता है ।अर्थात जब भी हमारे शरीर में सुजन होता है तो यह बनता है सूजन शरीर को चोंटो या संक्रमण से बचाने का तरीका है  सूजन एक ऐसी प्रक्रिया है जिसके द्वारा हमारे शरीर की श्वेत रक्त कोशिकाएं बाहरी बैक्टेरिया और वायरस के संक्रमण से बचाती है ।

2.CRP फूल फॉर्म

CRP का फुल फॉर्म होता है : c-reactive protein

3.What is CRP test (CRP test क्या है)

CRP टेस्ट का उपयोग आपके उपचार की निगरानी के लिए किया जा सकता है। CRP टेस्ट के द्वारा हमारे शरीर में CRP के लेवल को चेक किया जाता है  यह एक मार्कर की तरह काम करता है इसका मूल्य  जितना कम होगा उतना हमारे शरीर के लिए लाभदायक है और अधिक वैल्यू हमारे शरीर के लिए हानि-कारक होता  है। CRP test  एक रक्त परीक्षण है और यह किसी भी बीमारी के दौरान शरीर में सूजन के स्तर के बारे में बताता है और संक्रमण स्तर को इंगित करता है।

यदि सीआरपी सामान्य है, तो रोगी का शरीर सकारात्मक रूप से उपचार के लिए प्रतिक्रिया कर रहा है ।और यदि यह आवश्यकता से अधिक है, तो डॉक्टरों को सीटी स्कैन जैसे अन्य परीक्षणों के माध्यम से शरीर में संक्रमण स्तर की जांच करने की आवश्यकता है।

अस्पताल में देखभाल करने वाले गंभीर स्थिति वाले रोगियों के लिए डॉक्टर इसे अनिवार्य रूप से आयोजित कर रहे हैं, क्योंकि यह उन संकेतकों में से एक है जो चल रहे उपचारों के लिए शरीर की प्रतिक्रिया दिखाते हैं। यदि इसका वैल्यू पहले से कम हो रहा  है तो पता चलता है की आपका शरीर रिकवर हो रहा है इसी तरह यदि इसका वैल्यू बाद रहा है तो डॉक्टर दुसरे तरह के दवाई देते है जिससे आपके स्वास्थ्य में जल्दी सुधर हो सके।

4.Why CRP test for Corona (covid) (कोरोना के लिए CRP test क्यों किया जा रहा है)

 आज दिनों-दिन पुरे विश्व में कोरोना महामारी  दिनों दिन बड  रहा है जिससे हमारे जिंदगी में  खतरा बना हुआ है । और ऐसे में हमें बहुत ज्यादा सतर्क रहना जरुरी है । यह मुख्य रूप से यह उन रोगियों के लिए  किया जा रहा है  जो कोविड वायरस उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती हैं । लेकिन बड़ी संख्या में चिकित्सक उस कोविड सकारात्मक रोगी के लिए भी एक ही परीक्षण की सिफारिश कर रहे हैं जो हल्के लक्षणों के साथ घर के अलगाव (isolate) में हैं।

अस्पताल में देखभाल करने वाले गंभीर स्थिति वाले रोगियों के लिए डॉक्टर इसे अनिवार्य रूप से करवा रहे हैं, हल्के और मध्यम कोविड लक्षणों वाले रोगी के लिए, सीआरपी तब तक आवश्यक नहीं है, जब तक कि उसके वायरस के अनुबंध के 5 दिन गुजरने के बाद भी रोगी उसी लक्षणों से पीड़ित न हो।

डॉक्टर केवल 4-5 दिनों के अंतराल पर कम से कम दो बार इसकी सिफारिश करते हैं ताकि सूजन की जांच की जा सके ताकि आगे की जटिलता का स्तर निर्धारित किया जा सके।

यह दोनों डॉक्टरों के साथ-साथ रोगियों के लिए भी सहायक है। यह सभी घर के अलगाव वाले रोगियों के लिए अनुशंसित नहीं किया जाना चाहिए, लेकिन केवल उन लोगों के लिए जरुरी है जो अनुशंसित दवाओं के बावजूद अपने लक्षणों में सुधार नहीं दिखा रहे हैं।

5.When do Test (CRP test कब किया जाना चाहिए )

यदि आपको एक गंभीर जीवाणु संक्रमण के लक्षण हैं जैसे :

  • बुखार होना।
  • ठंड लगना।
  • तेजी से साँस लेने में परेशानी।
  • तेजी से दिल का धडकना।
  •  उल्टी होना।
     

इस परीक्षण का उपयोग आपके उपचार की निगरानी के लिए किया जा सकता है। यदि आपके सीआरपी (CRP)स्तर नीचे जा रहा हैं, तो यह संकेत दिखता है कि सूजन के लिए आपका उपचार काम कर रहा है।

सी-रिएक्टिव प्रोटीन एक पदार्थ है जो शरीर बनाता है, और सूजन और संक्रमण के जवाब में रक्त में प्रसारित होता है। यह वसा कोशिकाओं द्वारा जारी कारकों के जवाब में यकृत में संश्लेषित होता है। यह हृदय रोग के खतरे के अच्छे मार्कर या संकेतक के रूप में कार्य करता है। उच्च संवेदनशीलता सी-प्रतिक्रियाशील प्रोटीन के लिए परीक्षण को एचएस-सीआरपी परीक्षण कहा जाता है। एक साधारण रक्त परीक्षण एक ही समय में कोलेस्ट्रॉल की जांच के रूप में किया जा सकता है। उच्च-संवेदनशीलता सी-प्रतिक्रियाशील प्रोटीन (एचएस-सीआरपी) परीक्षण हृदय रोग के जोखिम को निर्धारित करने में मदद करता है और व्यापक रूप से उपलब्ध है। 

Hs-CRP कई बीमारियों और स्थितियों जैसे कि संक्रमण, कैंसर, हृदय रोग, स्ट्रोक, परिधीय धमनी रोग आदि का संकेत दे सकता है। उच्च स्तर आनुवांशिकी, पर्यावरण विषाक्त पदार्थों के संपर्क, जन्म नियंत्रण की गोलियाँ का सेवन और गर्भावस्था के कारण भी हो सकता है।

6.How is the CRP test done? (CRP test कैसे किया जाता है)

टेस्ट करने के लिए आपके रक्त के नमूने लेकर  साधारण रक्त  परिक्षण द्वारा किया जाता है यह प्रक्रिया बहुत सरल है । जिसे उच्च-संवेदनशीलता सीआरपी (Hs-CRP) कहा जाता है जिसे प्रयोगशाला में किया जाता है लेकिन समय पड़ने पर अलग से भी क्या जा सकता है ।

7.Where is the test done? (CRP test कहाँ होता है )

किसी भी पैथोलॉजी लैब में किया जा सकता  है ।

8.How much CRP test cost?(CRP test कितने में होता है )

सीआरपी परीक्षण सीटी स्कैन की  तरह महंगा नहीं है और इसलिए किसी भी प्रकार के जटिल रोगी को एक बार CRP टेस्ट करवा लेना चाहिए।

सामन्यतः  यह 300-500 रुपये में हो जाता है लेकिन प्रत्येक लैब में टेस्ट करने की प्रक्रिया अलग अलग हो सकती है जिसके कारण इसका मूल्य भी कुछ ऊपर निचे हो सकता है।

9.What is CRP normal range (CRP Test का सामान्य परिणाम )

सामान्यतः जितना कम परिणाम रहेगा आपके लिए उतना अच्छा होता है और जितना ज्यादा अधिक लेवल में परिणाम आएगा तो आपको और अच्छी उपचार की जरुरत है ।

  • 1.0 mg/dl तक = कम जोखिम
  • 1.0 – 2.9 mg/dl =  मध्यवर्ती जोखिम
  •  3.0 mg/dl से ऊपर = उच्च जोखिम से अधिक है

    CRP का स्तर उम्र, लिंग और शारीरिक स्थिति जैसे कारकों से प्रभावित नहीं होता है । 

 

10.How to low CRP?(CRP कैसे कम किया जा सकता है )

अपने डॉक्टर की सलाह के अनुसार दवाई लें साथ में 8-10 घंटे पर्याप्त नींद लें, योग-व्यायम करें, विटामिन से भरपूर आहार लें और धूम्रपान से बचे।

11.निष्कर्ष 

आज आपने जाना की  CRP टेस्ट आपके लिए कितना जरुरी है यह डॉक्टर और आपके लिए बहुत बड़ी सुविधा है। जब भी आपको लगे की तबियत में सुधार नहीं हो रहा है तो आपको एक बार  CRP टेस्ट अवश्य करा लेना चाहिए। अपना ख्याल रखें । धन्यवाद् ।

 

 

आपको यह भी जानना चाहिए:

हैप्पी हाईपोक्सिया क्या है (happy hipoxia kya hai)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Home
Account
Cart
Search