हैप्पी हाईपोक्सिया क्या है (happy hipoxia kya hai)

हैप्पी हाईपोक्सिया = कोरोना की दूसरी लहर

सामान्य कोरोना में देखा जाता है की लोगो में सर्दी बुखार जुकाम गले में खरास हो जाती है और oxygen लेवल कम हो जाता है लेकिन अब हैप्पी हाईपोक्सिया की समस्या देखने और सुनने को मिल रही है । यह कोरोना की दूसरी लहर के नाम से जा रहा है इसलिए सभी को इसके बारे में थोडा जानकारी रखना जरुरी है ताकि इस तरह के बीमारी से बचा जा सके ।

आज हमारी जागरूकता ही हमारे लिए बचाव है ।

हैप्पी हाईपोक्सिया क्या है ।

आज ज्यादातर हमें यह सुनने को मिल रहा है की किसी कोविड पेशेंट की अचानक मृत्यु हो जा रही है, कल तक तो अच्छा था लेकिन आज अचानक नहीं बचा । यह हैप्पी हाईपोक्सिया के कारण हो सकता है , इसमें अचानक मरीज की oxygen लेवल कम हो जाती है जिसके कारण उसकी अचानक मृत्यु हो रही है ।

यह हैप्पी हाई-पोक्सिया बीमारी खासकर नौजवान लोगो में ज्यादा देखने को मिल रही है, अचानक oxygen लेवल कम हो जा रहा है लेकिन उसे साँस लेने में परेशानी भी नहीं हो रही है । oxygen लेवल कम होने पर भी मरीज को कोई आभास तक नहीं होता है लेकिन अचानक उस मरीज की मृत्यु हो जा रही है।

यह हैप्पी हाईपोक्सिया एक ऐसी स्थिति है जब शरीर को या शरीर के किसी भाग को पर्याप्त oxygen नहीं मिल पाती है और आदमी की जान चली जाती है । इसमें किसी भी रोगी को पता नहीं चलता है और अचानक उसकी मृत्यु हो जाती है, इसलिए इसे हैप्पी हाईपोक्सिया या साइलेंट हाई-पोक्सिया भी कहा जाता है  जो आज बहुत सारे कोविड मरीजो में ऐसी स्थिति को देखा जा रहा है ।

युवा वर्ग में ही क्यूँ :

अधिक उम्र वालों को oxygen लेवल में थोडा सा भी उतार-चडाव का पता चल जाता है, लेकिन युवायो में इम्युनिटी पॉवर ज्यादा होने के कारण oxygen लेवल में कमी का पता नहीं चलता है । करीबन 70-80  होने पर भी मरीज को पता नही चलता है और जब उनका oxygen लेवल बहुत निचे करीबन 50 के पास चला जाता है और अस्पताल में एडमिट होने में देरी हो जाती है जिसके कारण उनकी मृत्यु हो जाती है ।

लक्षण :

होंटों का रंग नीला हो जाना ।

कार्बन-डाईऑक्साइड का लेवल बड जाना ।

चिडचिडाहट होना ।

ओक्सिजन लेवल काफी कम होने पर साँस लेने में परेशानी होती है ।

कैसे बचें :

हमेशा खुश रहे और हंसते रहे।

ज्यादा समाचार न पड़ें और न देखे ।

प्रतिदिन योग-व्यायाम करते रहना चाहिए ।

संतुलित आहार लेते रहना चाहिए।

कोविड मरीजो को हमेशा अपना oxygen लेवल चेक करते रहना चाहिए ।

और अंत में….

घर में रहे सुरक्षित रहे।

 

हमारी नयी लेख आपको पसंद आएगी:

CRP test in hindi | CRP test Cost | What is CRP test (हिंदी में)

 

यह लेख सिर्फ जागरूक करने के लिए लिखी गयी है  यहाँ पर प्रकाशित सभी जानकारी इन्टरनेट से लेकर सरल भाषा में लिखी गयी है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Home
Account
Cart
Search